ब्रिटेन के नए प्राइम मिनिस्टर ऋषि सुनक की जीबन परिचय | Rishi Sunak Biography in Hindi

आज तक भारत के उप्पर ब्रिटेनो ने राज करने का कहानी सुना हे।अंग्रेजो ने करीब भारत के ऊपर दो साल राज किआ औरबर्बता की सारे हद पार कर दी।अब बारी हे एक भारतीय की।भारत में गाँधी जी के एक सिद्धांत बहत  मायने रखता हे जो की हे अहिंस।जैसे अंग्रेज़ो ने हिंसा करके सारे हद पार कर दी थी वैसे ही भारत की मुल्क़ की  ऋषि सुनक ने अब अंग्रेज़ो को अहिंसा का पाठ पढ़ाने के लिए तैयार हे। ऋषि सुनक अब ब्रिटेन की प्रधान मंत्री हो गए हे। 

Rishi Sunak Biography in Hindi



वैसे नहीं हे की ऋषि सुनक ने पहला ब्यक्ति हे ब्रिटेन की राजनीती में,उनके पहले कई भारतीय ब्रिटेन की राजनितिक पार्टी  में शामिल हुए हे लेकिन ऋषि सुनक पहला भारतीय ब्यक्ती हे जो की ब्रिटेन का प्रधान मंत्री हे।अज्ज इस पोस्ट में ऋषि सुनक से जड़ित सभी सबलो की जवाब हम देने बाले हे। अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगता हे तो अपने दोस्तों के साथ हमारा पोस्ट जरूर शेयर करे। 

ऋषि सुनक कौन हे। Rishi Sunak Wikipedia | Rishi Sunak Parents 

ऋषि सुनक 12 May 1980 में सॉउथम्पटन,हैम्पशायर,यूनाइटेड किंगडम में जन्म ग्रहण किये थे। ऋषि सुनक के ग्रैंड पेरेंट्स 1960 में पहले अफ्रीका गए थे उसके बाद UK  में जाके रहने लगे। इन का ग्रैंड पेरेंट्स पंजाब से हे। ऋषि सुनक के पिताजी के नाम यशवीर सुनक और माता जी के नाम उषा सुनक हे। ऋषि सुनक के पिताजी एक डॉक्टर हे और उनके माताजी एक फार्मासिस्ट हे। ऋषि सुनक हाइली एडुकेटेड हे ।

ऋषि सुनक के सिख्या | What Nationality is Rishi Sunak?

ऋषि सुनक कहते हे मेरा माता पिता मुझे एजुकेशन देने के लिए बहुत संघर्ष किआ हे। जो भी ऋषि सुनक के पास अभी दौलत हे सब मेहनत करके उन्होंने कमाया हे। ऋषि सुनक विंचेस्टर कॉलेज से अपने एजुकेशन पूरी की। उसके बाद ऑक्सफ़ोर्ड कॉलेज से ऋषि ने ग्रेजुएट डिग्री पूरी की उसके बाद स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से ऋषि ने MBA डिग्री पूरा किआ।

ऋषि सुनक के ब्यक्तिगत जीबन | Rishi Sunak Wife |Rishi Sunak Parents Wealth

ऋषि सुनक स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ने के टाइम उनका मुलाक़ात होता हे अख्याता मूर्ति से जो की नारायण मूर्ति की बेटी हे। नारायण मूर्ति इनफ़ोसिस की चेयरमैन हे। नारायण मूर्ति जी को फादर ऑफ़ इंडियन आईटी इंडस्ट्री भी बोलै जाता हे। उनका एक इन्स्पिरिंग पर्सनालिटी भी हे। ऋषि सुनक ने अख्याता मूर्ति से सादी की हे। 

ऋषि सुनक अपने पढाई पूरी करने के बाद 2001-2004 तक एनालिस्ट पद पर गोल्डमैन सचटस पर काम किये हे। वंहा पे उन्हों ने बहत पैसा कमाने लगे उसके बाद उन्हों ने हेज फण्ड फर्म में चिल्ड्रन फण्ड मैनेजमेंट बकपनी में काम किआ और 2006 में उसी कंपनी का पार्टनर बन गए। ऋषि ने 2009 में उनके दोस्त के साथ मिलके एक हेज फण्ड फर्म थैलेमे नाम का कंपनी October 2010 में सुरु किए। 

ऋषि सुनक कातंरण वेंचर्स कंपनी का डायरेक्टर भी हे जो की नारायण मूर्ति का कंपनी हे। पहले उन्होंने अपने करियर को स्ट्रांग किआ उसके बाद मेंबर ऑफ़ पार्लियामेंट की जरिये ब्रिटिश पार्लियामेंट में एंट्री लि। 

ऋषि सुनक के राजनैतिक जीबन |

ऋषि सुनक के पहले से ही रूचि हे राजनीती में आने की। एक अछि बात हे ब्रिटिश पार्लियामेंट की यंहा जो भी लोग आते हे एडुकेटेड लोग आते हे। जिस भी पार्लियामेंट में पढ़े लिखे लोग आएंगे तो अपने आप आगे बढ़ेगा। 

ऋषि सुनक के कंसर्वेटिवे पार्टी में शामिल हुए और 2014 का जनरल इलेक्शन में कंसर्वेटिवे पार्टी की तरफ से रिचमॉन्डस सहर से चुनाब लड़े थे और 2015 में MP के रूप में ब्रिटिश पार्लियामेंट में सपथ ग्रहण की। एहि से ऋषि का राजनैतिक जीबन सुरु होता हे। उन्हों ने 2017 जनरल इलेक्शन में दुबारा जित हासिल की। 2019 में ऋषि सुनक को पार्लियामेंट्री पद के लिए चुना गया था। उसके बाद ऋषि सुनक ने फिर से 2019 जनरल इलेक्शन में बहुमत में जित हासिल की। ऋषि सुनक के तीसरी बार के लिए MP पद में जित हासिल किआ। ऋषि सुनक को तीसरी बार जित हासिल करने के बाद मुख़्य सचिब ट्रेज़री पद दिए गया था जो की ब्रिटेन का थर्ड हाईएस्ट पद हे।  उनका काम को देख कर और काम में प्रभाबित हो कर उनको चांसलर ऑफ़ द एक्सचेकर पद दिए गए थे। 

और अभी बारिश जॉनसन ने इस्तफ़ा देने के बाद ऋषि सुनक ब्रिटेन की नए प्राइम मिनिस्टर बन गए। ब्रिटेन का नया प्राइम मिनिस्टर को लेके ब्रिटेनके लोगो के मन में खुसी हे लेकिन उसके साथ साथ हर भारतीय नागरिक के लिए ये ख़ुशी और गरब की बात हे। आशा करता हूँ ये पोस्ट आपको अच्छा लगेगा। हमारा पोस्ट पढ़ने के लिए दिल की गहराई से प्यार भरा धन्यवाद। 



0 Comments